अनुज्ञा मिलने तक क्या कर सकते हैं?

अगले  180 दिनों तक अपनी

  1. बेरोजगार युवाओं को अपनी रोटी कमाने में मदद करने की इच्छा को बलवती बनायें।
  2. बेरोजगार युवाओं के माता-पिता से सम्मान पाने की महत्वाकांक्षा को दिन दूनी रात चौगुनी; बलवती बनाते जायें।
  3. पड़ोसी ग्रामीणों के साथ पूर्वाग्रहों के बिना बातचीत करने की इच्छा को दृड़ बनायें; और इसका थोड़ा अभ्यास शुरू करें ।
  4. आपके मोबाइल में बेरोजगार युवाओं के संपर्क नंबर जौड़ते जायें जो आपको घ्यान से सुनना चाहें.
  5. अड़ोस पड़ौस के हर गांव में कम से कम एक व्यक्ति को अपना राज़दार बनायें पारकैम्प के बारे में बताकर. ध्यान रखें ऐसा व्यक्ति हो जो न तो स्मार्टफोन रखता हो न और न ही कम्प्यूटर लिटरेट हो अन्यथा वह भी आवेदन ठौक सकता है.